जंतुओं में नियंत्रण एवम समन्यव के लिए तंत्रिका तथा हार्मोन क्रियाविधि की तुलना करें



तंत्रिका कार्यविधि
1). इस प्रकार में शरीर में तंत्रिकाओं का एक जाल बना होता है जो शरीर की प्रत्येक कोशिका से संबंधित रहता है तथा केन्द्रीय तंत्रिका तंत्र से मिलता है |
2). तंत्रिकाओं तथा अंगो का परस्पर सम्बन्ध केन्द्रीय तंत्रिका तंत्र से नियंत्रित रहता है |
3). इस तंत्र में केवल एक रसायन उत्पन्न होकर सिनैप्टिक दरार को भर लेता है फिर पुनः चूस लिया जाता है |
4). सभी प्रकार की क्रियाए तंत्रिकाओं तथा केन्द्रीय तंत्रिका तंत्र द्वारा नियंत्रित होती है |

हार्मोनिक कार्यविधि
1). हार्मोनिक कार्यविधि में शरीर में किसी प्रकार का जाल नहीं होता है |
2). इस प्रकार के तंत्र में कोई नियंत्रक अंग नहीं होता है |
3). हार्मोन नि:स्रोत ग्रंथियों में स्रावित होता है |
4). विशिष्ट हार्मोन विशिष्ट अंग एवम उसके कार्यो को नियंत्रित करता है |


इन्हें भी देखे :-
👉 प्रतिवर्ती क्रिया एवम अनैच्छिक क्रियाए में अंतर लिखे
👉 छुई-मुई पादप में गति एवम मानव के टांग में होने वाली गति में अंतर लिखे
👉 द्विखंडन एवम बहुखंडन में अंतर लिखे